सर्वे: राफेल डील में “घोटाले” के मुद्दे पर जनता की राय

राफेल डील को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार को घेरने की पूरी कोशिश की लेकिन उनके सारे दावे फेल और झूठे नज़र आये मोदी सरकार में हुई इस डील को लेकर कांग्रेस ने जनता को गुमराह करने के लाख प्रयास किये। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी खुद अलग-अलग जगह जाकर राफेल डील के अलग-अलग दाम बता रहे जिससे यही साबित हुआ है कि कांग्रेस बस सुर्ख़ियों में बने रहने के लिए और लोगों को गुमराह करने के लिए यह प्रदर्शन कर रही है। अब राफेल डील को लेकर एक बड़ा सर्वे सामने आया है, जिसमें लोगों से पूछा गया है कि इस डील में घोटाला हुआ है ? या फिर नहीं हुआ है? तो इस सर्वे के जो नतीजे सामने आये हैं, उन्हें देखकर राहुल गाँधी को बड़ा झटका लगेगा।

जानकारी के लिए बता दें इंडिया-टुडे-एक्सिस माई इंडिया ने राफेल डील समेत कई मुद्दों पर महाराष्ट्र में एक सर्वे किया, जिसके नतीजे चौंकाने वाले हैं। सर्वे में बताया गया है कि 70 फीसदी ऐसे लोग हैं जिन्हें राफेल डील के बारे में कोई जानकारी ही नहीं है। वहीँ 30 फीसदी लोगों ने इस डील के बारे में कहा कि हम इस डील के बारे में जानकारी रखते हैं। सर्वे में 18000 लोगों की राय ली गयी है, जिनसे सवाल पूछा गया कि राफेल डील में घोटाला हुआ है या नहीं? तो आंकड़े हैरान करने वाले हैं।

सर्वे के अनुसार 24 फीसदी लोगों ने कहा है कि इस डील में भ्रष्टाचार नहीं हुआ है और 58 फीसदी लोगों ने यह कहा है कि पता नहीं भ्रष्टाचार हुआ है या नहीं, वहीँ 18 फीसदी लोगों ने कहा है कि भ्रष्टाचार हुआ है। तो देखा आपने लोगों ने अपनी-अपनी राय रखी है इन आकंड़ों को देखने के बाद कांग्रेस गहरे सदमे में पहुंच सकती है। राहुल गाँधी पिछले काफी समय से मोदी सरकार पर आरोप लगा रहे हैं कि अनिल अम्बानी को फायदा पहुँचाने के लिए सरकारी कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को सौदे से बाहर कर दिया था।

गौरतलब है कि राफेल डील के दाम को लेकर मोदी सरकार और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी यह दावा कर चुकी हैं कि ये डील यूपीए सरकार की तुलना में कम रूपये में हुई है। अब इस सर्वे को देखने के बाद कांग्रेस के भी कान खड़े हो गये होंगे कि आखिर क्या सही है और क्या गलत। जनता भी समझ गयी है कि चुनावों से पहले लोगों का मन बदलने के लिए ही कांग्रेस ये सब दिखावा कर रही है।

Related posts